What is operating system , it's functions & types

Hello guys! This is Ashwini Upadhyay here today I want to discuss you " What is Operating System,its function & types"  if you want to know about this topic ,so please read it till the end 

 

Do You know about Operating System ?

If not so don't worry I'm here to tell you all.

As we know, we are human nd we have a heart. without heart we can't live ,as like this Operating System is a heart of Computer.

I mean Computer अपना work करने के लिये अलग अलग devices and programs की help लेता है क्या आपने कभी सोचा इस program और devices को कौन control करता होगा तो आइए जानते है

इन program और devices को एक specefic program control करता है जिसे operating system के नाम से जाना जाता है without Operating System ,our System looks like an empty box!

 

Table of contents:

1. What is Operating System !!i

2. Function Of Operating System !!

3. Characteristics of Operating System !!

4. Types of Operating System !!

5. Name of some Operating System!!

 

What is Operating System !!

Operating System को system Software भी कहा जाता है जो computer और user के बीच एक interface provide करता है

Operating system groups of programs होता है जो कि storage device में store रहता है। तथा यह programs computer के resources तथा operations को manage करता है.

OS computer के सभी operations को manage करता है।

 OS का कार्य अन्य प्रोग्राम्स तथा ऍप्लिकेशन्स को run कराना होता है तथा यह कंप्यूटर के हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर के मध्य bridge की तरह कार्य करता है।

बिना Opeating System के एक computer useless  à¤¹à¥‹à¤¤à¤¾ है।

 multitask operating system में एक ही समय पर बहुत सारें programs run हो जाते है. और OS यह निर्धारित करता है कि कौन सा प्रोग्राम कब run होगा और कितने समय के लिए run होगा.

 

Functuon of Operating System

जब भी हम computer को on करते है तब Operating System सबसे पहले main memory (RAM)में लोड होता है और इसके बाद user Software को कौन कौन सी hardware की requirment है उसके बेस पर उन्हें allocate करता है operating system के function ये है

1. Memory Management

2. Processor Management

3. Device Management

4. File Management

5. Security

6. system performance

7. Error detecting a

8. Coordination b/w other software nd users


Memory Management

Memory management के अंतर्गत primary and secondary memory को manage करना आता है

Operating system main memory(RAM) का कौन सा part कहा use करना है, कितना use करना है, कितना नही करना है को manage करता है

Multi processing में operating system decide करता है कि किस process को कितना memory दिया जाएगा या नही

Process complete हो जाने के बाद operating system memory ले लेता है

 

Processor Management

Multi programming Environment में Operating System decide करता है कि किस process को proceesor प्रोवाइड किया जायेगा इस process को process scheduling कहते है

Operating Sytem process को CPU allocate करता है

जब process से processor का काम complete हो जाता है तो operating system processor को दूसरे काम मे लगा देता है

Device Management

Operating system अपने respective drivers की help से device communication को manage करता है।

Operating system ये decide करता है कि किस process को device कब दिया जाएगा और कितने टाइम के लिए

Operating system devices को efficient way से allocate करता है।

Operating system devices को काम ओवर हो जाने पर de allocate कर देता है।

File management

File managment को सामान्य रूप से easy navigation और usage के लिए direction को organized किया जाता है। इन direction में files और other direction हो सकती हैं।

Operating system Information, locations, uses, status etc को trake करता है

Operating system यह decide करता है कि resource किसे मिलेगा

Operating System Devices को allocate करता है।

Security

Password और some other techniques की help से unaurthorized person को data और programs को access करने से रोकता है

System performence

किसी service के request से लेकर responce के बीच हुए delay को control करता है operating system 

Error detection Aids

Operating system error को detect करने का काम भी करता है

Coordination b/w other softwares and users

Computer system और users के बीच operating system coordination बनाता है

 

Characteristics of Operating System

 

1. Primary Memory को Track करता है. जैसे, कहाँ use हो रही है? कितनी Memory use हो रही है? और मांगने पर मैमोरी उपलब्ध करवाता है.

2. Processor का ध्यान रखता है अर्थात Manage करता हैं Computer से जुडे हुए सभी Devices को manage करता हैं.

3. Computer hardware & software को manage करता है

4. Password & other technicque की help से security provide करता है

5. Computer द्वारा किये जाने वाले कार्यों का ध्यान रखता है और उनका record रखता हैं.

6. Errors और खतरों से अवगत कराता हैं.

7. User और Computer Programs के बीच Coordination बनाता हैं.

 

Types of operating system

1. Single User OS

2. Multi User OS

3. Batch Processing OS

4. Multi Processing OS


Single User Operating System


Single User Operating System वह System हैं, जिसमें केवल एक Programme केवल एक समय में execute होता हैं।अधिकांशत: Computer में Single Work Operating System का use किया जाता हैं। इन Operating System में केवल एक Problem हैं, कि इसमें एक Programme एक Line में arrange रहते हैं। Computer System एक Programme को तुरंत execute नहीं करता हैं, जब तक कि उस Programme के साथ कोई पहचान न हो। इसके लिये Information का साथ होना बहुत जरूरी हैं, जिससे कि उस Programme को पहचान जा सके अन्‍य hardware device भी इन Programme को execute करने के लिए इन Information की demand करते हैं। यह सारे Instruction एक Special job control language  à¤®à¥‡ लिखे जाते हैं। जिसे OS understand करता हैं।

 

Multi User Operating System


OS विशेष Program का Group हैं, जो Computer की क्रियाओं को Manage करता हैं, और Computer की activities को एक Program से दूसरे Program में Transfer करके speed provide करता हैं। Computer OS की Help से स्‍वयं के Operation पर निगरानी रखता हैं, यह अन्‍य सभी Program के instruction को machine के समझने योग्‍य बनाता हैं। यह computer की सभी गतिविधियों के controler के द्वारा user द्वारा Input किये गये data एवं result को एक device से दूसरे device में transfer करता हैं। आजकल कई OS अनेक कार्य एक साथ करने की सु‍विधा देते हैं, जिसे Multiprocessing कहते हैं।

Multi programming system के लिए निम्न hardware & software की need होती है

  1. Large Memory
  2. Memory Protection
  3. Paper Job Mixing


Batch Processing Operating System

Batch Processing एक बहुत पुराना तरीका हैं, जिसके माध्‍यम से विभिन्‍न Program को execute किया जाता हैं, और इसका use विभिन्‍न data Processing Center पर कार्यों को execute करने के लिये किया हैं। OS की यह technique automatic job change के सिद्धान्‍त पर निर्भर हैं। यही सिद्धान्‍त अधिकांश Operating System के द्वारा प्रदान किया जाता हैं। इस प्रकार के OS में प्रत्‍येक user अपने Program को Offline तैयार करता हैं, तथा कार्य के पूरा हो जाने पर उसे data Processing Center पर जमा करा देता हैं।

एक computer operator इन सारे Program को collect करता हैं। जो कि एक card या Pinch मे रहते हैं। जब Operator Program के batch को एक-एक करके execute करता हैं, और अंत में Operator उन कार्यो के printout को प्राप्‍त करता हैं, तथा उन outputs को संबंधित user को प्रदान कर दिया जाता हैं। Batch Processing को हम Serial, Sequential, Offline or stack job processing भी कहते हैं। जब Computer को इस technique के लिये use किया जाता हैं, तो input data को execute करने के लिये operator के हस्‍तक्षेप की आवश्‍यकता नहीं होती हैं। कार्य इसमें स्‍वत: ही हो जाते हैं। इसमें बहुत अलग-अलग कार्य एक ही समय में एक-एक करके execute किये जाते हैं।

Drawbacks of Batch System

1. Process के क्रियान्‍वयन के दौरान User एवं Process का कोई Interaction नहीं हो सकता था

2. Turn-around का समय अधिक लगना 

3. C.P.U. अक्‍सर Idle रहता था।

 

Multi Processing Operating System


Multiprocessing Word का use एक Processing method को स्‍पष्‍ट करने के लिये किया जाता हैं, जहॉं पर दो या दो से अधिक Processor एक दूसरे से जुड़े रहते हैं। इस प्रकार के system में different and independent Program के निर्देश एक ही Time में एक से अधिक processor के द्वारा execute किये जाते हैं। अत: Processor द्वारा विभिन्‍नबInstructionबका execution एक के बाद एक किया जाता हैं, जो कि एक ही Program से प्राप्‍त हुये हो।

 

Name of some Operating system

1. Windows OS

2. Mac OS

3. Linux OS

4. Ubuntu

5. Android OS

6. iOS

7. MS-DOS

8. Symbian OS

 

 If you like this article please  share it and join with for daily updates

Thank You!!